ईरानी सेना का कबूलनामा, यूक्रेन का विमान गलती से मार गिराया गया था

इससे पहले ईरान ने कहा था कि विमान में खराबी की वजह से हादसा हुआ। विमान ने तेहरान के इमाम खुमैनी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से यूक्रेन की राजधानी कीव के बोर्यस्पिल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे लिए उड़ान भरी थी। बोइंग विमान में 176 लोग सवार थे। सभी लोगों की मौत हो गई।

Written by: January 11, 2020 10:47 am

तेहरान। ईरान ने आखिरकार कबूल कर ही लिया कि उसकी सेना ने गलती से यूक्रेनी यात्री विमान बोइंग 737 को मार गिराया था। ईरान की सेना के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि यूक्रेन के यात्री विमान को ईरान ने गलती से मार गिराया था। ईरान ने इसे ‘मानवीय भूल’ कहा है। प्रेस टीवी के अनुसार, इस्लामिक रिपब्लिक ऑफ ईरान के सशस्त्र बलों के जनरल स्टाफ द्वारा इस खबर की पुष्टि की गई। यह घटना ऐसे समय पर हुई थी जब ईरान ने इराक में मौजूद अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर मिसाइल हमला किया था।

Ukraine crash

इससे पहले ईरान ने कहा था कि विमान में खराबी की वजह से हादसा हुआ। विमान ने तेहरान के इमाम खुमैनी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से यूक्रेन की राजधानी कीव के बोर्यस्पिल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे लिए उड़ान भरी थी। बोइंग विमान में 176 लोग सवार थे। सभी लोगों की मौत हो गई। यूक्रेन इंटरनेशनल एयरलाइन्स के विमान में सवार यात्रियों में सबसे अधिक (82) ईरान के ही थे। ईरान के 82 लोगों के साथ 63 कनाडाई, यूक्रेन के 11, स्वीडन के 10, अफनागिस्तान के 4, जर्मनी के 3 और यूके के 3 लोग सवार थे।

Ukraine crash

रॉयटर्स के मुताबिक, ईरान की मिलिट्री ने स्टेट टीवी को एक बयान जारी कर बताया है कि मानवीय भूल की वजह से उसने एयरक्राफ्ट को निशाना बनाया. मिलिट्री का कहना है कि विमान ईरान की सेंसिटिव मिलिट्री साइट के पास उड़ रहा था। बयान में ये भी कहा गया है कि मिलिट्री का ज्यूडिशियल डिपार्टमेंट मामले की जांच करेगा और घटना की जवाबदेही तय की जाएगी।