11 दिन बाद दिल्ली हिंसा पीड़ितों से मिलने पहुंचे राहुल गांधी, कांग्रेस के कई नेता भी साथ में रहे मौजूद

कांग्रेस नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों के दौरे पर है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी इस प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा हैं।

Avatar Written by: March 4, 2020 6:22 pm

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर बीते दिनों राजधानी दिल्ली में भड़की हिंसा अब शांत हो गई है। 11 दिन बाद इस पूरे प्रकरण पर कांग्रेस की नींद खुली है। कांग्रेस नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों के दौरे पर है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी इस प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा हैं।

Rahul Gandhi North East Delhi violance affacted area

यहां उन्होंने उस अरुण मार्डन पब्‍लिक स्‍कूल, बृजपुरी का दौरा किया, जो हिंसा के दौरान आगजनी का शिकार हुआ था। स्कूल से बाहर आकर राहुल गांधी ने मीडिया ने कहा, ‘ये स्कूल है। ये हिंदुस्तान का भविष्य है। जिसे नफरत और हिंसा ने जलाया है। इससे किसी का फायदा नहीं हुआ है। हिंसा और नफरत तरक्की के दुश्मन हैं। हिंदुस्तान को जो बांटा और जलाया जा रहा है इससे भारत माता को कोई फायदा नहीं है।’

Rahul Gandhi North East Delhi violance affacted area

राहुल गांधी ने अपील करते हुए कहा कि सबको मिलकर प्यार से यहां काम करना पड़ेगा। हिंदुस्तान को जोड़कर ही आगे बढ़ा जा सकता है। दुनिया में जो छवि भारत की है, उसको ठेस पहुंची है। भाईचारा और एकता हमारी ताकत थी, उसको यहां जलाया गया है। इससे हिंदुस्तान और भारत माता को नुकसान होता है।

Rahul Gandhi North East Delhi violance affacted area

राहुल गांधी के साथ कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल में मुकुल वासनिक, कुमारी शैलजा, अधीर रंजन चौधरी, केसी वेणुगोपाल, रणदीप सुरजेवाला, के सुरेश, गौरव गोगोई और ब्रह्म मोहिंद्रा शामिल हैं। राहुल गांधी बृजपुरी में अरुण मॉडर्न पब्लिक स्कूल पहुंचे। वहीं कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल के कुछ नेता चांदबाग, बृजपुरी में भी पहुंचे हैं। हालांकि प्रतिनिधिमंडल को हिंसाग्रस्त इलाके में जाने की मंजूरी नहीं मिली है।

Rahul Gandhi North East Delhi violance affacted area

इससे पहले लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने बयान दिया था कि राहुल गांधी की अगुवाई में कांग्रेस का एक दल दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा करेगा। बयान के मुताबिक, इस दल में राहुल गांधी के अलावा कांग्रेस के लोकसभा और राज्यसभा सांसद मौजूद होंगे।


राहुल गांधी के इन इलाकों में जाने पर भाजपा ने लगाया भड़काने का आरोप

भारतीय जनता पार्टी का कहना है कि राहुल गांधी वहां जाना चाहते हैं तो जाएं। साथ ही यह आरोप भी लगाया कि इससे पहले उनकी मां सोनिया गांधी ने खुद लोगों को भड़काया था। लोगों को भ्रमित किया था।


इसके साथ ही रमेश बिधूड़ी ने कहा कि राहुल गांधी को उस इलाके में जाना है तो जाए लेकिन 6 दिन पहले आप इटली से लौटकर आए हैं क्या आपने एयरपोर्ट पर अपनी स्क्रीनिंग करवाई थी या नहीं। आपको वहां पहुंचने से पहले इस बात का ध्यान रखना होगा कि कोरोनावायरस इन इलाकों में ना फैल जाए?