Connect with us

देश

Maharashtra: उद्धव गुट को बॉम्बे हाईकोर्ट से मिली जीत, शिंदे खेमे को लगा झटका, जानिए क्या मामला

Maharashtra: बता दें कि हाईकोर्ट ने शिंदे गुट की याचिका को पहले ही खारिज कर दिया था। उद्धव गुट की तरफ से शिवाजी पार्क में दशहरा रैली की मंजूरी के लिए याचिका दाखिल की गई थी। लेकिन अब मुंबई के शिवाजी पार्क में उद्धव गुट को दशहरा रैली करने की इजाजत मिल गई है। 

Published

on

नई दिल्ली। महाराष्ट्र (Maharashtra) से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। मुंबई के शिवाजी पार्क में उद्धव गुट को दशहरा रैली करने की इजाजत मिल गई है। बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) में आज इस मामले पर सुनवाई हुई। हाईकोर्ट ने शिवाजी पार्क में उद्धव गुट को 02 अक्टूबर से 06 अक्टूबर के बीच दशहरा रैली करने की इजाजत दे दी है। बीते कई दिनों से शिवाजी पार्क में दशहरा रैली करने को लेकर एकनाथ शिंदे खेमे और उद्धव ठाकरे के धड़े के बीच रस्साकशी देखने को मिल रही थी। जिसके बाद उद्धव गुट की तरफ से शिवाजी पार्क में दशहरा रैली की मंजूरी के लिए हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गई थी। अब उद्धव खेमे को दशहरा रैली करने की अनुमति मिल गई है। यानी उद्धव गुट को बॉम्बे हाईकोर्ट से बड़ी जीत मिली है। वहीं एकनाथ शिंदे को झटका लगा है।

uddhav_thakray

बता दें कि हाईकोर्ट ने शिंदे गुट की याचिका को पहले ही खारिज कर दिया था। उद्धव गुट की तरफ से शिवाजी पार्क में दशहरा रैली की मंजूरी के लिए याचिका दाखिल की गई थी। लेकिन अब मुंबई के शिवाजी पार्क में उद्धव गुट को दशहरा रैली करने की इजाजत मिल गई है। बता दें कि शिवसेना का इतिहास रहा है कि 1966 में जब से पार्टी की स्थापना हुई है, तब से शिवाजा पार्क में शिवसेना दशहरा रैली का आयोजन करती रही है। सिर्फ कोरोना महामारी के कारण दो साल से रैली का आयोजन नहीं हुआ था।

हालांकि अब जब कोरोना के बाद स्थिति ठीक हुई है। ऐसे में राज्य के पूर्व सीएम उद्धव ठाकरे ने पांच अक्टूबर को शिवाजी पार्क में रैली की घोषणा की थी। लेकिन एकनाथ के बागी होने के बाद से शिवसेना दो धड़ों में बंट गई। दोनों शिवाजी पार्क में दशहरा रैली करने के लिए अड़ गए थे। हालांकि बीएमसी ने एकनाथ शिंदे को शिवाजी पार्क में रैली करने की इजाजत दे दी थी। जिसके बाद उद्धव गुट ने हाईकोर्ट का रूख किया। आज इसी मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट ने उद्धव ठाकरे गुट को बड़ी जीत मिली है और रैली करने की इजाजत दे दी है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement