Connect with us

देश

Covid-19 Update : त्यौहार से पहले वापस आ धमका कोरोनावायरस, क्या इस बार नए वेरिएंट के साथ मचाएगा तबाही ?

Covid-19 Update : स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोनावायरस के इस नए सब वेरिएंट के खतरे को देखते हुए इसे बेहद संक्रामक वेरिएंट की श्रेणी में रखा है। इस वैरिएंट लेकर बेहद सतर्कता बरतने को कहा गया है।

Published

नई दिल्ली। 2019-20 में जिस तरह से कोरोनावायरस ने दुनिया भर में कहर बरपाया उससे अभी तक लोग उबर नहीं पाए हैं। कई देश तो अब भी कोरोनावायरस की चपेट में है। चीन के कई शहरों में कुछ महीने पहले लॉकडाउन भी लगाया गया था। इसी बीच भारत में कोरोना वायरस के नए सब वेरियंट BF.7 का मामला सामने आने के बाद स्वास्थ्य मंत्रालय सतर्क हो गया है। देश में ओमिक्रॉन के इस सब वेरियंट का पहला मामला सामने आने के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने एक उच्च स्तरीय बैठक की, जिसमें स्वास्थ्य विभाग के अलावा Insacog, DBT, और NTAGI के तमाम अधिकारी भी शामिल हुए।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोनावायरस के इस नए सब वेरिएंट के खतरे को देखते हुए इसे बेहद संक्रामक वेरिएंट की श्रेणी में रखा है। इस वैरिएंट लेकर बेहद सतर्कता बरतने को कहा गया है। खास तौर पर दिवाली सहित अन्य त्योहारों के दौरान भीड़भाड़ में इसके फैलने का खतरा पहले से अधिक बढ़ गया है।

इस वेरिएंट को लेकर क्यों चिंतित है स्वास्थ्य विभाग?

आपको बता दें कि देश के सबसे बड़े राज्यों में शुमार महाराष्ट्र में पिछले सप्ताह की तुलना में, इस सप्ताह कोरोना वायरस संक्रमण के केसों में 17.7% की वृद्धि दर्ज की गई। इसकी तफ्तीश करने पर राज्य स्वास्थ्य विभाग ने ओमिक्रॉन के BF.7 और XBB को इसके लिए जिम्मेदार पाया। जानकारों के मुताबिक कोविड का ये नया वेरिएंट बेहद संक्रामक है। साथ ही ये बुजुर्गों और गंभीर बीमारियों से पीड़ित लोगों के लिए काफी घातक साबित हो सकता है। ऐसे में ठंड के मौसम और त्योहारी सीजन को देखते हुए आशंका जताई जा रही है कि देश में कोविड के एक बार केस फिर तेजी से बढ़ सकते हैं। इसी आशंका के बीच स्वास्थ्य मंत्री ने मंगलवार को अहम बैठक की। महाराष्ट्र कोरोनावायरस को लेकर हाई अलर्ट पर इसलिए भी रहता है क्योंकि जब कोरोनावायरस पूरे देश में फैला था तो सबसे अधिक महाराष्ट्र ही प्रभावित हुआ था।

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement