Connect with us

देश

Pooja Singhal Case: झारखंड की IAS अफसर पूजा सिंघल की करोड़ों की संपत्ति जब्त, हॉस्पिटल से लेकर डायग्नोस्टिक सेंटर तक फैला है ‘साम्राज्य’

Pooja Singhal Case: प्रवर्तन निदेशालय ने जानकारी देते हुए बताया कि, मनी लॉन्ड्रिंग रोधी कानून के तहत जेल में बंद में झारखंड की निलंबित आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल का एक सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल, एक डायग्नोस्टिक सेंटर और 82.77 करोड़ रुपये संपत्ति जब्त कर ली गई हैं।

Published

नई दिल्ली। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की करीबी माने जाने वाली निलंबित आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल प्रवर्तन निदेशालय यानि ED ने बड़ी कार्रवाई की है। पूजा सिंघल के खिलाफ का ईडी का लगातार हथौड़ा चल रहा है। गुरुवार को ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग केस में पूजा सिंघल पर शिकंजा कसते हुए उनका एक अस्पताल, डायग्नोस्टिक सेंटर को जब्त कर लिया है। इसके अलावा प्रवर्तन निदेशालय ने उनकी 82.77 करोड़ रुपये मूल्य की संपत्ति भी कुर्क कर ली है।

pooja sinhgal hospital

प्रवर्तन निदेशालय ने जानकारी देते हुए बताया कि, मनी लॉन्ड्रिंग रोधी कानून के तहत जेल में बंद में झारखंड की निलंबित आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल का एक सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल, एक डायग्नोस्टिक सेंटर और 82.77 करोड़ रुपये संपत्ति जब्त कर ली गई हैं।

pulse diagnostic

ध्यान रहे कि जांच ने विगत 11 मई को सिंघल को झारखंड के खूंटी जिले में मनरेगा फंड के कथित गबन से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया गया था। जांच एजेंसी द्वारा चार राज्यों में हुए छापेमारी के बाद सिंघल को गिरफ्तार किया गया था। इस मामले में सीए सुमन कुमार के घर से नोटों का जखीरा बरामद हुआ था। जांच करने पहुंची टीम को नोट का अंबार देखकर होश उड़ गए थे इतना ही नहीं पैसे  गिनने के लिए मशीन तक मांगवानी पड़ गई थी। घर से करीब 19 से 20 करोड़ रुपए बरामद किए गए थे।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement