भारत-चीन सीमा विवाद के बीच रक्षा मंत्री के लद्दाख दौरे की आई नई तारीख, सेना प्रमुख होंगे साथ

भारत-चीन सीमा विवाद के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का लद्दाख दौरा तय हुआ था लेकिन उसे एक दिन पहले ही कैंसिल कर दिय गया था।

Written by: July 15, 2020 3:05 pm

नई दिल्ली। भारत-चीन सीमा विवाद के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का लद्दाख दौरा तय हुआ था लेकिन उसे एक दिन पहले ही कैंसिल कर दिय गया था। उसके ठीक अगले दिन बिना किसी कार्यक्रम के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लद्दाख में सैनिकों से मिलने पहुंचे थे। अब एक बार फिर राजनाथ सिंह के लद्दाख दौरे की नई तारीखों का ऐलान हो गया है। रक्षा मंत्री के साथ इस दौरे में सेना प्रमुख भी साथ रहेंगे।

चीन के साथ बॉर्डर पर चल रहे तनाव के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल इलाके का दौरा करेंगे। रक्षा मंत्री दो दिन के दौरे पर जम्मू-कश्मीर और लद्दाख जाएंगे, जहां पर वो एलएसी के साथ-साथ एलओसी भी जाएंगे। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे 17 जुलाई को लद्दाख और 18 जुलाई को श्रीनगर जाएंगे।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह 17 जुलाई को लेह पहुंचेंगे, यहां से वो LoC के इलाके में जाएंगे। जहां पर पाकिस्तान बॉर्डर पर तैयारियों का जायजा लेंगे। इसके बाद 18 जुलाई को राजनाथ सिंह LAC इलाके में जाएंगे, जहां पर चीन बॉर्डर की स्थिति का जायजा लेंगे।

Rajnath Singh Army Chief General MM Narwane

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह इससे पहले कई बार दिल्ली में सेना प्रमुख, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के साथ बैठक करके बॉर्डर पर हालात का जायजा ले चुके हैं। 15 जून को बीस जवानों की शहादत के बाद से ही बॉर्डर पर तनाव बढ़ता गया था।

Rajnath Singh

इससे पहले चीन के साथ हिंसक झड़प के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन जुलाई को अचानक लद्दाख के दौरे पर पहुंचे थे। तब उन्होंने स्थिति का जायजा लेने के साथ-साथ सेना के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मुलाकात की थी। पीएम मोदी चीन के साथ झड़प में घायल हुए जवानों से भी मिले थे।

वहीं, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत और तीनों सेना के प्रमुखों के बीच आज एक विशेष रक्षा अधिग्रहण परिषद की बैठक हुई।