पीएम मोदी ने देश के युवाओं को दिया ऐसा चैलेंज जिससे चीन को लगेगा तगड़ा झटका

भारत द्वारा चीन की जिन ऐप पर रोक लगाई गई है उनमें टिकटॉक और यूसी ब्राउजर भी शामिल हैं, जो भारत में काफी लोकप्रिय हैं। पूर्वी लद्दाख में गलवान घाटी में भारत-चीन सीमा विवाद के बीच यह रोक लगाई है।

Avatar Written by: July 4, 2020 5:01 pm

नई दिल्ली। गलवान में भारत और चीन की सेना के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद से भारत ने चीन को आर्थिक मोर्चे पर सबक सिखाने के लिए कमर कस ली है। पहले तो चीन की बोलती बंद करते हुए मोदी सरकार ने देश में चीन के 59 App को बैन कर  दिया। बैन हुए ऐप्स में टिकटॉक, शेयर इट, यूसी ब्राउजर नाम शामिल हैं। जो भारत में काफी लोकप्रिय हैं।

galwant ghati

59 चीनी ऐप्स को बैन करने के बाद अब मोदी सरकार की ऐप्स के मामले में भी भारत को ‘आत्मनिर्भर’ बनाने की योजना है। प्रधानमंत्री मोदी ने शनिवार को ट्वीट करके कहा कि वह आत्मनिर्भर भारत ऐप इनोवेशन चैलेंज लॉन्च करने जा रहे हैं। मोदी ने लिखा, ‘आज मेड इन इंडिया ऐप्स बनाने के लिए तकनीकी और स्टार्टअप समुदाय के बीच अपार उत्साह है। इसलिए इलेक्‍ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय और AIMtoInnovate मिलकर इनोवेशन चैलेंज शुरू कर रहे हैं।’

पीएम मोदी ने कहा कि अगर आपके पास कोई ऐसा प्रोडक्ट है या फिर आपको लगता है कि कुछ अच्छा करने का दृष्टिकोण और क्षमता है तो टेक कम्युनिटी के साथ जुड़ जाइए। प्रधानमंत्री मोदी ने लिंक्डइन पर अपने विचार रखे हैं।

भारत सरकार ने चीन के कई ऐसे ऐप बैन कर दिए हैं जो कि भारत में बेहद लोकप्रिय हो गए थे और मोटी कमाई कर रहे ते। सीमा पर चीन की हेकड़ी देखने के बाद और इन ऐप में कमियां पाए जाने के बाद सरकार ने यह कदम उठाया। भारत के फैसले के बाद चीन बौखला उठा।

App Innovation

भारत द्वारा चीन की जिन ऐप पर रोक लगाई गई है उनमें टिकटॉक और यूसी ब्राउजर भी शामिल हैं, जो भारत में काफी लोकप्रिय हैं। पूर्वी लद्दाख में गलवान घाटी में भारत-चीन सीमा विवाद के बीच यह रोक लगाई है।