Connect with us

देश

Row over GST: जीएसटी पर कांग्रेस की प्रवक्ता ने वित्त मंत्री सीतारमण को घेरने की कोशिश की, यूजर्स ने ऐसे कर दी बोलती बंद

विपक्ष के लगातार आरोप पर मंगलवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 14 ट्वीट करके सिलसिलेवार बताया था कि जीएसटी आखिर क्यों लगाने का फैसला किया गया और जीएसटी लगाने के फैसले में विपक्ष शासित राज्यों के वित्त मंत्रियों की भी सहमति थी। इसी पर कांग्रेस प्रवक्ता ने उनको घेरने की कोशिश की थी, लेकिन खुद मात खाती दिखीं।

Published

supriya shrinate

नई दिल्ली। पैकेज्ड खाने की चीजों पर जीएसटी लगाए जाने पर विपक्ष आजकल मोदी सरकार पर हमलावर है। कांग्रेस समेत विपक्षी दलों का आरोप है कि इस कदम से आम लोगों की जेब पर डाका डाला गया है। विपक्ष के लगातार आरोप पर मंगलवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 14 ट्वीट करके सिलसिलेवार बताया था कि जीएसटी आखिर क्यों लगाने का फैसला किया गया और जीएसटी लगाने के फैसले में विपक्ष शासित राज्यों के वित्त मंत्रियों की भी सहमति थी। सीतारमण के ट्वीट के जवाब में कांग्रेस की प्रवक्ता और सियासत में आने से पहले एक बिजनेस न्यूज चैनल में एंकर रहीं सुप्रिया श्रीनेत ने उन्हें घेरने की कोशिश की, लेकिन सोशल मीडिया यूजर्स ने पलटकर उन्हें ही सवालों के घेरे में ला दिया और बोलती बंद कर दी।

Nirmala-Sitharaman

सुप्रिया श्रीनेत ने अपने 10 ट्वीट में वित्त मंत्री सीतारमण से कई सवाल पूछे। उन्होंने ये भी लिखा कि जीएसटी काउंसिल किसी चीज पर टैक्स लगाने का सुझाव सरकार को देती है। इसे मानना या न मानना सरकार पर होता है। साथ ही सुप्रिया ने ये भी आरोप लगाया कि जब कन्ज्यूमर प्राइस इंडेक्स की महंगाई दर 7 फीसदी और व्होलसेल महंगाई की दर 15 फीसदी से ज्यादा है, रुपए में लगातार गिरावट जारी है, तो पैकेज्ड खाद्य पदार्थों पर आखिर जीएसटी क्यों लगाया गया? इसके अलावा सुप्रिया ने अपने ट्वीट्स में और क्या-क्या लिखा, उसे आप नीचे ट्वीट के थ्रेड में पढ़ सकते हैं।

सुप्रिया के इन ट्वीट्स पर सोशल मीडिया के यूजर्स भड़क उठे। उन्होंने कांग्रेस की यूपीए सरकार के आंकड़े देते हुए श्रीनेत को घेर लिया। यूजर्स ने यूपीए सरकार के दौरान अनाज और जरूरी चीजों पर वैट वसूले जाने की खबरों को भी शेयर किया। सोशल मीडिया पर सुप्रिया श्रीनेत को किस तरह यूजर्स ने फटकार लगाई, वो आप नीचे देख सकते हैं।

Advertisement
Advertisement
Advertisement