Connect with us

देश

Amit Shah Interview: ‘हालात कंट्रोल से बाहर नहीं जाने देंगे’, कानून-व्यवस्था पर पंजाब सरकार को संकेतों में गृहमंत्री अमित शाह की चेतावनी

पंजाब में आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार बनने के बाद से कानून और व्यवस्था पर लगातार सवाल उठ रहे हैं। सिंगर सिद्धू मूसेवाला, डेरा सच्चा सौदा के भक्त से लेकर हिंदूवादी नेता सुधीर सूरी की हत्या की बड़ी घटनाएं हो चुकी हैं। खालिस्तानी तत्व भी लगातार सिर उठा रहे हैं। ऐसे में अमित शाह का बयान काफी मायने रखता है।

Published

amit shah and bhagwant mann

नई दिल्ली। पंजाब में लगातार हत्याएं हो रही हैं। ड्रग्स का कारोबार काफी बढ़ गया है। नशे की वजह से लगातार पीढ़ियां बर्बाद हो रही हैं। केंद्र सरकार ने राज्य के ऐसे हालात पर नजर बना रखी है। गृहमंत्री अमित शाह ने सोमवार को मीडिया ग्रुप ‘नेटवर्क-18’ के प्रधान संपादक राहुल जोशी से खास इंटरव्यू में ये बात कही। अमित शाह ने संकेतों में चेतावनी भी दी। उन्होंने कहा कि हालात पर हमारी नजर है। पंजाब में चीजों को केंद्र सरकार किसी सूरत में आउट ऑफ कंट्रोल नहीं होने देगी। ये पूछे जाने पर कि क्या केंद्र सरकार सख्त कदम उठाएगी? अमित शाह ने कहा कि केंद्र और राज्य मिलकर काम करेंगे। उन्होंने कहा कि रणनीति को मैं सार्वजनिक मंच से जाहिर नहीं करूंगा। सुनिए अमित शाह ने क्या कहा।

बता दें कि पंजाब में आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार बनने के बाद से कानून और व्यवस्था पर लगातार सवाल उठ रहे हैं। सिंगर सिद्धू मूसेवाला, डेरा सच्चा सौदा के भक्त से लेकर हिंदूवादी नेता सुधीर सूरी की हत्या की बड़ी घटनाएं हो चुकी हैं। खालिस्तानी तत्व भी लगातार सिर उठा रहे हैं। ऐसे में अमित शाह की हालात को कंट्रोल से बाहर न जाने देने की बात ये साफ कर रही है कि केंद्र सरकार पंजाब के हालात के प्रति उदासीन नहीं है। इसके अलावा ड्रग्स के मामले में भी उनकी बात साफ करती है कि इस बुराई को मिटाने के लिए केंद्र सरकार पूरी रणनीति बनाकर काम कर रही है।

amit shah

अमित शाह ने इस इंटरव्यू में समान नागरिक संहिता UCC पर पूछे गए सवाल का भी जवाब दिया। उन्होंने कहा कि संविधान के अनुच्छेद 44 में इसे लागू करने के लिए कहा गया है। साथ ही जनसंघ के जमाने से चुनावी घोषणापत्र में ये मुद्दा हम उठाते रहे हैं। अमित शाह ने कहा कि बीजेपी ने जो भी वादे किए, उनको पूरा किया है। चाहे राम मंदिर हो, 370 हो या तीन तलाक। बीजेपी ने कभी चुनावों को ध्यान में रखकर कोई काम नहीं किया। सभी कदम देश और जनता के हित में उठाए हैं।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement