दिल्ली में हुई हिंसा में अबतक गई 7 लोगों की जान, मौजपुर और ब्रह्मपुरी में आज फिर हुई पत्थरबाजी

जिन 7 लोगों की मौत हो चुकी है, उसमें हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल भी शामिल हैं। इसके अलावा 100 से ज्यादा लोग घायल हैं। गौरतलब है कि मंगलवार सुबह भी हालात तनावपूर्ण है।

Avatar Written by: February 25, 2020 9:02 am

नई दिल्ली। सोमवार को नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में प्रदर्शन करने वालों और समर्थन करने वालों के बीच हुई हिंसा में अबतक सात लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि ये हिंसा अभी पूरी तरीके से रुकी नहीं है, मंगलवार को भी मौजपुर और ब्रह्मपुरी इलाके में पत्थरबाजी शुरू हो गई।

Delhi

बता दें कि जिन 5 लोगों की मौत हो चुकी है, उसमें हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल भी शामिल हैं। इसके अलावा 100 से ज्यादा लोग घायल हैं। गौरतलब है कि मंगलवार सुबह भी हालात तनावपूर्ण है। सुबह-सुबह पांच मोटरसाइकिल को आग के हवाले कर दिया गया। मौके पर बड़ी तादाद में पुलिस बल तैनात है।

DCP अमित शर्मा को आया होश

कल दिल्ली के गोकुलपुरी में दो समूहों के बीच झड़प के दौरान घायल हुए शाहदरा के DCP अमित शर्मा को अस्पताल में होश आ गया है। कल रात उनकी एक सर्जरी हुई थी और आज सुबह उनका CT स्कैन किया गया। अब वह सुरक्षित हैं और ख़तरे से बाहर हैं।

Jafrabad Protest

वहीं बीती रात से आज सुबह तक मौजपुर और उसके आस-पास इलाकों में आगजनी के 45 कॉल आए, जिसमें दमकल की एक गाड़ी पर पथराव किया गया, जबकि एक दमकल की गाड़ी को आग के हवाले कर दिया गया। तीन दमकलकर्मी घायल हुए है।

Jafrabad Protest

सुरक्षा के लिहाज से दिल्ली में आज जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी, जौहरी एन्क्लेव और शिव विहार मेट्रो स्टेशन को बंद कर दिया गया है। इसके साथ ही पूरे इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है। इसके साथ ही नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के सभी स्कूल आज बंद है। धारा 144 लागू कर दी गई है। पूरे इलाके में पुलिस फोर्स की भारी तैनाती की गई है। दिल्ली से सटे दूसरे राज्यों को हाई अलर्ट कर दिया गया है।

इस मामले में कल रात में दिल्ली में गृह मंत्री अमित शाह ने बड़ी बैठक की। अहमदाबाद से लौटने के तुरंत बाद अमित शाह ने समीक्षा बैठक की। रात 11 बजे से डेढ़ बजे तक चली इस बैठक में गृह सचिव, इंटेलिजेंस ब्यूरो चीफ, दिल्ली पुलिस कमिश्नर और गृह मंत्रालय के दूसरे अधिकारी शामिल थे। हालात पर कड़ी नजर रखने का आदेश दिया गया है।