अपने समाज के लोगों के नाम मोहसिन रजा का खास संदेश, सुनिए मुसलमानों को संबोधित कर क्या कहा…

मोहसिन रजा ने कहा कि सीएम योगी ने कहा था कि हम सीएए विरोध के नाम पर उपद्रव करने वालों को बेनकाब करेंगे, तो ये वो उपद्रवी चेहरे हैं, जिन्होंने प्रदेश की जनता को नुकसान पहुंचाया।

Avatar Written by: March 7, 2020 2:56 pm

नई दिल्ली। एक तरफ जहां पूरे देश में नागरिकता संशोधन कानून(सीएए) को लेकर विरोध प्रदर्शन का दौर जारी है वहीं दूसरी तरफ इसको लेकर केंद्र सरकार की तरफ से स्पष्ट कर दिया गया है कि चाहे स्थिति कोई भी हो इस कानून को वापिस नहीं लिया जा सकता है। वहीं इस कानून को लेकर कई मामले सुप्रीम अदालत के पास भी विचाराधीन है। वहीं उत्तर प्रदेश में इस कानून को लेकर प्रदर्शन कुछ ज्यादा ही तेजी से फैला था लेकिन यूपी सरकार की तरफ से की गई तमाम एहतियातन कोशिशों के बाद इस पर सरकार लगाम लगाने में कामयाब रही है।

mohsin raja

वहीं उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा के बाद यूपी सरकार की कार्रवाई जारी है। सीएम योगी आदित्यनाथ के आदेश पर उपद्रवियों के पोस्टर लखनऊ के चौराहों पर लगाए जा रहे हैं। कई आरोपियों को संपत्ति के नुकसान की वसूली का नोटिस दिया जा चुका है। आपको बता दें कि इन पोस्टरों को लगने के बाद यूपी के अल्पसंख्यक कल्याण, मुस्लिम वक्फ और हज राज्यमंत्री मोहसिन रजा इन इलाकों में पहुंचे। पोस्टर दिखाते हुए मोहसिन रजा ने कहा कि ये उन उपद्रवियों की तस्वीरें हैं, जिन्हें हमारी सुरक्षा एजेंसियों ने चिन्हित किया है। मोहसिन रजा ने कहा कि सीएम योगी ने कहा था कि हम सीएए विरोध के नाम पर उपद्रव करने वालों को बेनकाब करेंगे, तो ये वो उपद्रवी चेहरे हैं, जिन्होंने प्रदेश की जनता को नुकसान पहुंचाया। मोहसिन रजा ने कहा योगी सरकार में किसी को बख्शा नहीं जाएगा। सर्वोच्च न्यायालय के आदेश पर कार्रवाई की जा रही है। यह वह चेहरे हैं, जिन्होंने उत्तर प्रदेश में अशांति पैदा की और हमने पहले भी कहा था कि हम किसी को छोड़ेंगे नहीं और अब कार्रवाई की जा रही है।

वहीं इस पूरे मामले पर सरकार की तरफ से अपनी प्रतिक्रिया देने के बाद अब मोहसिन रजा ने अपनी कौम के लोगों के नाम एक संदेश भी वीडियो के जरिए जारी किया है। मोहसिन रजा ने मुसलिम समुदाय के लोगों को संदेश देते हुए कहा कि जब से केंद्र में और यूपी में भाजपा की सरकार बनी है तो हमलोग लगातार मुसलमानों के हित में काम कर रहे हैं। जबकि 1947 में आजादी के बाद से ही राजनीतिक वजहों से हमेशा मुसलमानों का दोहन होता रहा है। दोनों जगह की सरकारों की तरफ से किसी भी धर्म के लोगों के साथ किसी भी योजना में कोई भेदभाव नहीं किया गया है। नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ ने हमेशा जनता को संबोधित किया ना की किसी एक जाति वर्ग को। दोनों ही सरकार ने मिलकर देश के मुस्लिम युवाओं को आगे लाने के लिए लगातार शिक्षा व्यवस्था में सुधार की कोशिश की गई। मदरसे के शिक्षा को बेहतर बनाने के लिए मोदी सरकार ने लगातार काम किया।

mohsin raja

मोहसिन रजा ने बताया कि उनके समुदाय की बदहाली के पीछे कांग्रेस, सपा, बसपा जैसी पार्टियां जिम्मेदार हैं जबकि भाजपा की सरकार लगातार मुसलमानों को बेहतर बनाने के लिए काम कर रही है। सीएए को लेकर भी इन्हीं पार्टी के नेताओं और मौलानाओं द्वारा लगातार हमारे समाज के लोगों के बीच एक तरह से भ्रम फैलाया जा रहा है। लगातार इस कानून को लेकर झूठ बोला जा रहा है।

mohsin raza

हमारी केंद्र और राज्य की सरकार ने किसी भी मुसलमान के साथ दुर्व्यवहार नहीं किया। अटल जी जब वह विदेश मंत्री थे तो गल्फ देशों के साथ जो करार हुए थे उसमें मुसलमानों को 80 प्रतिशत वर्क परमिट देने की मंजूरी लेकर आए थे। ताकि मुसलमानों की हालत लगातार बेहतर और बेहतर हो सके। इसके पीछे की एक ही वजह है कि जब भी भाजपा की सरकार बनी वह सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास की सोच के साथ काम करती रही है।

mohsin raza

सपा की नींव ही मुसलमानों के खून पर रखी गई वहीं कांग्रेस के समय 3 हजार से ज्यादा सांप्रदायिक दंगे हुए जो पूर्णतः साजिश के तहत कराए गए। इसमें कहां से मुस्लिम समाज का हित था। भाजपा देश के अंतिम व्यक्ति को मुख्य धारा से जोड़ने का काम कर रही है। कांग्रेस ने देश में इतनी क्षेत्रीय दलों को बनाया ताकि वो खरीदफरोख्त राजनीति कर सकें। ऐसे में मुस्लिम समाज को समझना होगा की उन्हें गुमराह कौन कर रहा है।

mohsin raja

जिन तीन देशों से लोगों को नागरिकता देने की बात की जा रही है उसमें से भारतीय मुसलमानों की नागरिकता कैसे जा सकती है। किसी पार्टी के पास इसका जवाब नहीं है। इन पार्टियों ने आपको बहकाकर हाथ में पत्थर तो थमा दिया लेकिन इसके बाद जो हालात बने वह सड़क पर खड़े लोगों के साथ नहीं आए। भाजपा अभी तक केवल मुसलमानों के हित में काम कर रही है। किसी भी तरह का भेदभाव यह सरकार नहीं कर रही है। इसी बात का खौफ विपक्ष को है कि यह सरकार तो जानेवाली नहीं हैं ऐसे में इनकी राजनीति कहां चलेगी।