जानिए कब से भव्य राममंदिर में कर पाएंगे आप रामलला के दर्शन!

अयोध्या में रामजन्मभूमि पर मंदिर निर्माण की प्रक्रिया में होली के बाद तेजी देखने को मिलेगी। मंदिर निर्माण के लिए बने ट्रस्ट का काम-काज प्रभावित न हो इसके लिए अधिग्रहीत परिसर से लगे रामकचहरी मंदिर के एक प्रखंड में कार्यालय खोला जा रहा है, जिसे होली बाद किसी भी दिन शुभ मुहुर्त देखकर संचालित किया जाएगा।

Avatar Written by: March 9, 2020 1:59 pm

अयोध्या। अयोध्या में रामजन्मभूमि पर मंदिर निर्माण की प्रक्रिया में होली के बाद तेजी देखने को मिलेगी। मंदिर निर्माण के लिए बने ट्रस्ट का काम-काज प्रभावित न हो इसके लिए अधिग्रहीत परिसर से लगे रामकचहरी मंदिर के एक प्रखंड में कार्यालय खोला जा रहा है, जिसे होली बाद किसी भी दिन शुभ मुहुर्त देखकर संचालित किया जाएगा। इसके बाद मंदिर निर्माण कार्य में तेजी आएगी। ट्रस्ट के सदस्य डॉ. अनिल मिश्रा ने आईएएनएस से कहा, “होली के बाद अगले सप्ताह से ट्रस्ट का कार्यालय सक्रिय रूप से काम करने लगेगा।”

ram-mandir

उन्होंने कहा, “अभी होलाष्टक चल रहा है, ऐसे में शुभ कार्य नहीं किए जाते हैं। अगले सप्ताह कोई शुभ मुहरुत देखकर कार्यालय मंदिर निर्माण की दिशा में आगे बढ़ेगा। इसके अलावा यह कार्यालय अभी अस्थायी रूप से बनाया गया है। रामकचहरी के एक संत ने इसे नि:शुल्क दिया है। ट्रस्ट का विधिवत कार्यालय परिसर में ही बनेगा। यात्रा मार्ग में यात्रियों को सुविधा मिलती रहे इसीलिए इसे अभी अस्थाई रूप से खोला जा रहा है।”

Ayodhya Ram Temple

मिश्रा ने कहा, “रामकचहरी में चलने वाले कार्यालय में अभी बरामदे में एक हाल, एक ऑफिस व एक रेस्ट रूम बनया जा रहा है। इसको संचालित करने के लिए एक पूर्णकालिक कार्यकर्ता को जिम्मेदारी दी जाएगी। वह नि:शुल्क यहां पर अपनी सेवा देगा। अभी यह कार्यालय काम-करने कराने के एक केंद्र के रूप में चलेगा। बाद में हाईटेक कार्यालय परिसर के अंदर बनेगा। अभी कार्यालय की जरूरत के हिसाब से कंप्यूटर रूम, इसके अलावा मंदिर निर्माण संबंधी कागजातों के हेतु एक कमरा होगा। यहां पर सारी जानकारी उपलब्ध रहेगी। यह कार्यालय रामलला मंदिर के समीप है।”

उन्होंने कहा, “जब रामलला को टेंट के मंदिर से फाइबर के मंदिर में शिफ्ट किया जाएगा। उसी दौरान ट्रस्ट का कार्यालय भी इस भवन में शुरू हो जाएगा। अभी जहां कार्यालय स्थापित होना है, यहां के भवन में कुछ मरम्मत की जरूरत है। इसके बाद कार्यालय संचालित हो जाएगा।”

Support Newsroompost
Support Newsroompost