कोरोनावायरस

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल कोरोना को दूसरी बार हरा चुके हैं। केजरीवाल ने रविवार को ट्वीट कर बताया था कि वो ठीक होकर काम पर लौट रहे हैं। उन्होंने कहा था कि फिलहाल दिल्ली में लॉकडाउन लगाने का कोई इरादा सरकार नहीं रख रही। लेफ्टिनेंट गवर्नर और वो हालात पर नजर बनाए हुए हैं।

कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं। देश में रविवार को एक दिन मे डेढ़ लाख मरीज मिले। ये संख्या 224 दिन बाद देखी गई। इससे अब सक्रिय मामले भी करीब 6 लाख हो चुके हैं। संक्रमण दर 10.21 फीसदी हो गई है। जबकि, ठीक होने की दर करीब 97 फीसदी है। मृत्युदर भी पहले के 1.38 से घटकर 1.36 फीसदी हो गई है।

Coronavirus: ब्लूमर्ग की न्यूज रिपोर्ट के मुताबिक, साइप्रस के एक शोधार्थी ने इस नए वैरिएंट का पता लगाया है। साइप्रस यूनिवर्सिटी के अध्यापक लियोन्ड्रियोस ने इस वैरिएंट का पता लगाया है। उन्होंने कहा कि डेल्टाकॉन वैरिएंट ओमीक्रॉन और डेल्टा वैरिएंट के मिश्रण का नतीजा है।

महाराष्ट्र सरकार ने ऐसे में तमाम और पाबंदियां लगाई हैं। सोमवार से रात 11 बजे से लेकर सुबह पांच बजे तक नाइट कर्फ्यू के अलावा सुबह 5 बजे से रात 11 बजे तक 5 या इससे ज्यादा लोग एकसाथ इकट्ठा नहीं हो सकेंगे।

Coronavirus: राजधानी दिल्ली में शुक्रवार को वायरस के 17,335 नए मामले दर्ज हुए हैं जो कि 8 मई के बाद 1 दिन में सामने आए मामलों में सबसे अधिक है। इसके अलावा 9 लोगों की मौत भी हुई। नई मौतों के बाद संक्रमण दर बढ़कर 17.73% तक पहुंच गई है। 

कोरोना के नए मरीजों की संख्या में और बढ़ोतरी हुई है। करीब एक हफ्ते पहले हर रोज 10000 मरीज मिल रहे थे। अब ये आंकड़ा हर रोज 1 लाख के पार हो चुका है। वहीं, ओमिक्रॉन वैरिएंट अब 27 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में पहुंच गया है। ओडिशा में इस वैरिएंट से एक महिला की जान गई है।

Omicron variant: स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, उनमें से 381 मरीजों को छुट्टी दे दी गई है। राष्ट्रीय राजधानी में 465 ओमिक्रॉन मामले सामने आए हैं, जिनमें से 57 ठीक हो गए हैं। दिल्ली के बाद कर्नाटक में पिछले 24 घंटों में 99 मामले सामने आए हैं, जिससे कुल संख्या 333 हो गई है। राजस्थान ने अब तक इस प्रकार के 291 मामलों का पता लगाया है।

Coronavirus: पिछले 24 घंटों में 91 लाख से अधिक वैक्सीन के साथ कोविड टीकाकरण अभियान गुरुवार सुबह तक 148.76 करोड़ तक पहुंच गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार गुरुवार सुबह तक 18.43 करोड़ से अधिक शेष और अप्रयुक्त कोविड वैक्सीन खुराक अभी भी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास उपलब्ध हैं।

देश की व्यापारिक राजधानी कही जाने वाली मुंबई और राजधानी दिल्ली कोरोना के सबसे बड़े केंद्र बनते दिख रहे हैं। दोनों ही जगह कोरोना के हजारों मरीज हर रोज मिल रहे हैं। इनमें ओमिक्रॉन मरीज भी हैं। ओमिक्रॉन के एक मरीज की राजस्थान में मौत हो गई।