भड़काऊ बयानों के डॉक्टर पर योगी सरकार की सख्त कार्यवाही, चला रासुका का हंटर

भड़काऊ बयानों के आरोपी डॉ कफील खान पर योगी सरकार ने रासुका लगा दी है। कफील खान गोरखपुर मेडिकल कॉलेज गैस कांड में भी आरोपी हैं। नागरिकता कानून को लेकर जारी विरोध प्रदर्शन में भड़काऊ भाषण देने के आरोप में डॉक्टर कफ़ील पहले से मथुरा जेल में बन्द हैं।

Written by: February 14, 2020 12:41 pm

नई दिल्ली। भड़काऊ बयानों के आरोपी डॉ कफील खान पर योगी सरकार ने रासुका लगा दी है। कफील खान गोरखपुर मेडिकल कॉलेज गैस कांड में भी आरोपी हैं। नागरिकता कानून को लेकर जारी विरोध प्रदर्शन में भड़काऊ भाषण देने के आरोप में डॉक्टर कफ़ील पहले से मथुरा जेल में बन्द हैं। आज उनकी ज़मानत पर रिहाई होनी थी लेकिन रासुका लगने की वजह से रिहाई नहीं हुई।

cm yogi

योगी सरकार ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में भड़काऊ बयान देने के आरोप गोरखपुर के डॉ. कफील खान के खिलाफ यह कार्रवाई की है। डॉक्टर कफील खान पर पिछले साल 12 दिसंबर को अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान भड़काऊ भाषण देने का आरोप है।

उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स (यूपी एसटीएफ) ने कफील को जनवरी में मुंबई से गिरफ्तार किया था।पुलिस के मुताबिक न्यायिक प्रक्रिया के तहत डॉक्टर कफील खान की गिरफ्तारी हुई थी। डॉक्टर कफील खान को हेट स्पीच की वजह से गिरफ्तार किया गया था। उनके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया गया था।

कफील खान यूपी पुलिस से बेहद डरे हुए थे। उन्होंने तब  कहा था कि उन्हें गोरखपुर के बच्चों की मौत के मामले में क्लीन चिट दे दी गई थी। अब फिर से आरोपी बनाने की कोशिश की जा कर रही हैं। वे महाराष्ट्र सरकार से अनुरोध करते हैं कि उन्हें महाराष्ट्र में रहने दे। उन्हें उत्तर प्रदेश पुलिस पर भरोसा नहीं है।