Connect with us

दुनिया

Poland Hit By Russian Missiles: तीसरे विश्वयुद्ध की आहट!, नाटो के सदस्य पोलैंड ने रूसी मिसाइल हमले में 2 की मौत का किया दावा, पुतिन सरकार का इनकार

पोलैंड की सरकार का दावा है कि मिसाइलें गिरी हैं। इनसे अनाज सुखाने के भंडार और एक अन्य जगह दो लोगों ने जान गंवाई। नाटो के अन्य देश अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस ने पोलैंड के साथ खड़े होने का एलान किया है। वहीं, रूस का कहना है कि उसने कोई मिसाइल नहीं दागी। मामले को तूल देने के लिए उस पर आरोप लगाया जा रहा है।

Published

russia hits poland

वॉरसॉ। रूस और यूक्रेन के बीच जारी जंग में अब नाटो देशों के शामिल होने और ऐसा होने पर तीसरा विश्वयुद्ध छिड़ने का खतरा और बढ़ गया है। दरअसल, नाटो के सदस्य पोलैंड ने दावा किया है कि उसके प्रेजेवोदो गांव में रूस की दो मिसाइलें गिरीं। इनसे 2 लोगों की मौत हुई। पोलैंड की सरकार ने बताया कि संकट की हालत को देखते हुए आपातकालीन बैठक की गई। वहीं, हंगरी के पीएम ने रक्षा परिषद की बैठक बुलाई है। दूसरी तरफ रूस ने कहा है कि उसने यूक्रेन के ऐसे किसी इलाके पर मिसाइलें दागी ही नहीं थीं।

russian missile

पोलैंड की सरकार का दावा है कि मिसाइलें गिरी हैं। इनसे अनाज सुखाने के भंडार और एक अन्य जगह दो लोगों ने जान गंवाई। न्यूज एजेंसी एसोसिएटेड प्रेस ने सबसे पहले अमेरिका के एक खुफिया अफसर के हवाले से पोलैंड पर रूसी मिसाइलें गिरने की खबर दी थी। रूस की मिसाइलें गिरने की खबर के बाद यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलिंस्की ने बयान में कहा कि नाटो क्षेत्र पर हमला गंभीर मसला है। आतंक हमारे देश की सीमा तक ही नहीं रहा। कार्रवाई जरूरी हो गई है। वहीं, अमेरिकी रक्षा विभाग पेंटागन के प्रवक्ता ब्रिगेडियर जनरल पैट्रिक राइडर ने कहा कि पोलैंड में रूस की मिसाइलें गिरने की खबर है, लेकिन पुष्टि नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि नाटो के संविधान के अनुच्छेद 5 के तहत हम एक-एक इंच की सुरक्षा करेंगे। बता दें कि नाटो के संविधान के अनुच्छेद 5 के तहत किसी भी सदस्य देश पर हमला पूरे संगठन पर हमला माना जाता है।

pentagon spokesman general patrick ryder

इस बीच, जी-20 शिखर सम्मलेन में बाली गए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन, ब्रिटिश पीएम ऋषि सुनक और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रां ने पोलैंड के पीएम मैतियुज मोराविकी और राष्ट्रपति आंद्रे दुदा से बात की। सभी ने पोलैंड को हर तरह के समर्थन का एलान किया है। इन नेताओं ने क्या कहा, ये आप नीचे पढ़ सकते हैं।

नाटो देशों के इस तेवर के बाद रूस की तरफ से भी बयान जारी किया गया है। रूस ने कहा है कि उसने मंगलवार को यूक्रेन के पोलैंड से सटी सीमा के आसपास कोई मिसाइल नहीं दागी। रूसी विदेश मंत्रालय के मुताबिक ऐसे में कोई भी मिसाइल भटककर पोलैंड में नहीं गिर सकती। रूस ने पलटकर मामले को तूल देने की कोशिश का आरोप लगाया है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement