Hathras Case: सवर्ण समाज ने की पंचायत, गिरफ्तार आरोपियों को बताया निर्दोष

Hathras Case: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हाथरस कांड (Hathras Case) को लेकर देश भर के लोगों काफी रोष है। 14 सितंबर को युवती के साथ घटी घटना को लेकर सभी पीड़िता को इंसाफ दिलाना चाहते हैं। आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं।

Avatar Written by: October 4, 2020 6:03 pm
swarna samaj

लखनऊ। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हाथरस कांड (Hathras Case) को लेकर देश भर के लोगों काफी रोष है। 14 सितंबर को युवती के साथ घटी घटना को लेकर सभी पीड़िता को इंसाफ दिलाना चाहते हैं। आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं। मामला बढ़ा देख पुलिस ने आनन-फानन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। लेकिन इन सबके बीच आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर गांव में चार दिनों से पंचायत (Panchayat) कराने की बात चल रही थी। पंचायत में क्षेत्र के सवर्ण समाज (Swarna Samaj) के लोग भी इकट्ठा हुए। पंचायत के दौरान सवर्ण समाज के लोगों ने पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए लोगों को निर्दोष बताया है।

swarna samaj

वहीं सीएम योगी के सीबीआई जांच की सिफारिश वाले फैसले का सवर्ण समाज के लोगों ने स्वागत भी किया। शनिवार को मुख्यमंत्री कार्यालय ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया था कि सीएम योगी के आदेश के बाद सीबीआई जांच की सिफारिश की गई है। दलित युवती के साथ गैंगरेप और उसके बाद हुई उसकी मौत के मामले की जांच पहले से ही एसआईटी कर रही है। राज्य सरकार ने इस मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने का फैसला लिया था। हालांकि विवाद बढ़ने के बाद राज्य सरकार ने अब इस केस को सीबीआई को सौंपने का फैसला किया है।

hathras sit team

पीड़िता के घर फिर पहुंची एसआईटी

हाथरस केस में एक तरफ जहां सियासत तेज है वहीं जांच एजेंसियां में भी तेजी है। रविवार को एक फिर एसआईटी टीम हाथरस पहुंची है। टीम हाथरस पीड़िता के घर पर परिवारवालों का बयान रिकॉर्ड कर रही है। इससे पहले घटना के बाद एसआईटी टीम मौक पर पहुंची थी। टीम ने कई बिन्दुओं पर जांच की थी और अपनी पहली जांच रिपोर्ट सीएम योगी को सौंपी थी। इसके बाद योगी सरकार ने मामले में पुलिस अधिकारियों पर कार्रवाई थी।