Monday, June 18, 2018

ज्ञान अतृप्ति का अपना आनंद है

ज्ञान अतृप्ति का अपना आनंद है। उपनिषद् साहित्य में इसीलिए प्रश्न और प्रतिप्रश्न हैं। प्रश्नों की इसी परंपरा के कारण भारत में सृष्टि रहस्यों...

प्रकृति में प्रतिपल आश्चर्यजनक घटित हो रहा है।

तरूणाई प्रश्न बेचैन नहीं है। प्रकृति में प्रतिपल आश्चर्यजनक घटित हो रहा है। सूर्य का उदय और अस्त विस्मय क्यों नहीं पैदा करता? प्रश्नों...

चार साल में लिए गए इन बड़े फैसलों ने बना दी मोदी सरकार की...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार ने देश में विकास की दिशा को गति देने के लिए अनेकों योजनाओं की शुरुआत की है,...
congress

हंगामे की भेंट चढ़ा संसद का बजट सत्र, सवालों के घेरे में विपक्ष की...

संसद का बजट सत्र शुक्रवार को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हो गया। लोकसभा में कुल 23 और राज्यसभा में 28 प्रतिशत ही कामकाज हुआ।...

भारत की निर्विवाद आस्था

ओउम् रहस्य है। भारत की निर्विवाद आस्था। प्राचीन परम्परा ने ओ3म् को अनवरत आदर दिया है। ओउम् की प्रतिष्ठा वैदिक परम्परा है। ओ3म् का...

पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी से लेकर पीएम मोदी तक, कैसा रहा भाजपा का...

भारतीय जनता पार्टी आज 38 साल की हो गई है। इसी कड़ी में पार्टी शुक्रवार को स्थापना दिवस मना रही है, जिसको लेकर कई...
Narendra Modi Rahul Gandhi BJP, Congress

मोदी सरकार के खिलाफ क्यों भ्रामक प्रचार कर रही है कांग्रेस ?

नई दिल्ली। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर लगातार हमला बोलनेवाली कांग्रेस की समझ पर भी अब देश की जनता को शक होने लगा...

आस्तिकता जीवन का सौन्दर्य है और यथार्थवाद जीवन का सत्य

अस्तित्व पूर्ण है। इसका प्रकट भाग पूर्ण है और अप्रकट भी। प्रकृति इसकी पूर्ण अभिव्यक्ति है। इसलिए पूर्णता का आस्वाद भी आनंददायी होना चाहिए।...

प्रकृति सुसंगत व्यवस्था है

प्रकृति सुसंगत व्यवस्था है। यह अपनी अव्यवस्था को भी अल्पकाल में पुनर्व्यवस्थित करती है। प्रकृति की गति की एक लय है। हमारी सुखानुभूति प्राकृतिक...

संवाद समाज के गठन का मूल आधार है

अस्तित्व रहस्यपूर्ण है। सृष्टि का उद्भव हजारों साल से विश्व जिज्ञासा है। भारतीय इतिहास के वैदिक काल में भी सृष्टि उद्भव पर असाधारण जिज्ञासा...

ताजा खबरें